No icon

Lifestyle Health Benefits Of Eating Seasame Seeds Keeps Cholesterol Low

कलेस्ट्रॉल कम कर हड्डियों को मजबूत रखता है 'तिल'

मकर संक्रांति के मौके पर तिल खाने की परंपरा सदियों पुरानी है। लेकिन तिल खाने के पीछे सिर्फ धार्मिक कारण नहीं है बल्कि तिल सेहत के लिए भी ढेरों फायदों वाला है। शोध भी बताते हैं कि तिल में सेसमीन नाम का ऐंटिऑक्सिडेंट पाया जाता है, जो कई रोगों में फायदेमंद है। तिल आपको सेहतमंद रखने के साथ-साथ कई समस्याओं को भी दूर करता है। आप भी डालें तिल के फायदों पर एक नजर...

तिल में पाया जाने वाला तेल हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है। इससे कार्डियोवस्क्युलर सिस्टम पर तनाव कम होता है और हृदय की कई समस्याओं को रोकने में मदद मिलती है। इसके अलावा, मैग्नीशियम हाइपरटेंशन को कम करने के लिए जाना जाता है और तिल इस जरूरी मिनरल से भरा है और इसके सेवन से शरीर को जरूरी 25 फीसदी मैग्नीशियम मिलता है।

कलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में काला तिल लाभकारी है। इनमें सेसामिन और सेसमोलिन नामक दो पदार्थ होते हैं, जो लिग्नांस नामक फाइबर का समूह होते हैं। लिग्नांस के प्रभाव से कलेस्ट्रॉल कम होता है, क्योंकि वे आहार फाइबर में समृद्ध हैं।

तिल फाइबर से भरे होते हैं। फाइबर पाचन को स्वस्थ रखने के लिए एक महत्वपूर्ण तत्व होता है, क्योंकि यह आंतों को अपना कार्य करने में मदद करता है। यह कब्ज जैसी समस्या को कम कर सकता है, साथ ही दस्त को कम करने में भी लाभकारी होता है।

तिल में काफी मात्रा में तांबा पाया जाता है। इससे जोड़ों, हड्डियों और मांसपेशियों में सूजन कम करने के साथ गठिया में भी काफी आराम मिलता है। तांबा रक्त वाहिनियों, हड्डियों और जोड़ों को मजबूत करने के लिए एक जरूरी खनिज है।

Comment As:

Comment (0)